alumni-collage स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की कर्मस्थली व समाजवाद की नर्सरी के रुप में सुविख्यात काशी विद्यापीठ की स्थापना बाबू शिवप्रसाद गुप्त द्वारा असहयोग आन्दोलन से प्रभावित होकर वाराणसी में की गई। काशी विद्यापीठ का उद्घाटन राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी के कर-कमलों से 10 फरवरी, 1921 (वसंत पंचमी) को संपन्न हुआ। आगे चलकर सन् 1995 में इस विश्वविद्यालय का नाम महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ हुआ। काशी विद्यापीठ, महात्मा गांधी जी के ‘आत्म निर्भरता’ व ‘स्वराज’ के आह्वान से प्रेरित होकर भारत में स्थापित विद्यापीठो में से एक है। स्वतंत्रता संग्राम के काल में ब्रिटिश हुकूमत से किसी भी प्रकार कि सहायता के बिना संचालित यह विद्यापीठ ब्रिटिशयुगीन भारत में स्थापित पहला आधुनिक विश्वविद्यालय है जो पूर्णतया भारतीयों द्वारा ही संचालित होता था।
Read more

Noble Alumni

Prof. T.N. Singh

Prof. T.N. Singh (V.C. MGKVP)

(Patron)

Prof. Yogendra Singh

Prof. Yogendra Singh

(Director)

Dr. Banshidhar Pandey

Dr. Banshidhar Pandey

(Secretary)